मत कहो…

मत कहो यह किस्मत की बात है… जहां बारातों में हज़ारों के निवाले कूड़े दान को खिलाये जा रहे हैं पर एक पिता अपने परिवार को दो वक़्त की रोटी तक को खून बहा रहा है मत कहो यह किस्मत की बात है… की बंद घरों में दीवारों पे लटकी तसवीरें घंटो ऐसी का हवा…

Read More

A Casual Tirade

People, stop writing about how blogging is great, how good people are to you, just how much you love writing… STOP! STOP! STOP! We know you care for the word. All of us do. And that’s why we’re here. That’s why YOU are here. But why, in the name of all that’s good, harp on…

Read More